अमेरिका कीं नौकरी छोड़कर लौटे अपने घऱ, खरीदीं 20 गायें; आज सालाना कमाते हैं 44 करोड़ रुपए

0
76

जीवन में पैसा ही सब कुछ नहीं है. क्योंकि आत्मसंतुष्टि भी बहुत जरूरी है. अगर आप एक जगह करोड़ों कमा रहे हैं और आपको वहां मानसिक संतुष्टि और खुशी नहीं मिल रही है, तो उस कमाई का कोई मतलब नहीं है. लोग अक्सर संतुष्टि पाने के लिए कुछ भी करने को तैयार रहते हैं.

आज हम एक ऐसे शख्स से मिलने जा रहे हैं जिसने आईआईटी खड़गपुर से इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की है. इसके बाद उन्होंने मास्टर डिग्री, पीएचडी की। फिर उन्हें भारत में नहीं बल्कि संयुक्त राज्य अमेरिका में अच्छी तनख्वाह वाली नौकरी मिली.

अमेरिका में एक बड़ी हाई-टेक कंपनी के साथ अच्छी तनख्वाह वाली नौकरी पाने के अलावा आप जीवन में और क्या चाहते हैं? लेकिन संतुष्टि नाम की कोई चीज नहीं होती. वह नहीं थी. क्योंकि वो शख्स कुछ अलग करना चाहता था. जिससे उनका मन संतुष्ट हो जाएगा.

अमेरिका में काम करते हुए मुझे भारत भूमि की याद आ गई. इसलिए यह व्यक्ति भारत आकर कुछ अलग करना चाहता था. इस आदमी ने अमेरिका में अपनी उच्च वेतन वाली नौकरी छोड़ दी और सीधे भारत चला गया. यह व्यक्ति साधारण नहीं था लेकिन इंटेल जैसी बड़ी कंपनी में नौकरी करता था. वह नौकरी छोड़कर भारत आ गया.

इस शख्स का नाम कर्नाटक के किशोर इंदुकुरी है. किशोर अपने राज्य कर्नाटक पहुंचे. किशोर अपने गांव में एक सामान्य जीवन जीना चाहते थे. वह अमेरिका में चमकना नहीं चाहता था। उनका दम घुट रहा था क्योंकि वह संयुक्त राज्य में नहीं रह सकते थे. आखिरकार वह सब कुछ छोड़कर अपने घर पहुंच गया था. उन्होंने घर पर रहने और कुछ अलग करने का फैसला किया था.

किशोरी को भारत में भी किसी अच्छी कंपनी में नौकरी मिल जाती. लेकिन उन्होंने डेयरी व्यवसाय में आने के लिए कड़ी मेहनत की. उन्होंने शुरुआत में 20 गायें खरीदीं. उन्होंने 20 गायों के साथ अपना डेयरी व्यवसाय शुरू किया. इसकी शुरुआत उन्होंने 2012 में की थी. उन्होंने अपने डेयरी व्यवसाय में इतनी मेहनत की कि उन्हें सफलता का कोई संदेह नहीं था.आज वह अपने डेयरी कारोबार से 44 करोड़ रुपये सालाना कमाते हैं.

सीड्स फार्म का नाम किशोर इंदुकुरी के डेयरी बेटे सिद्धार्थ के नाम पर रखा गया है. 2018 में, उनके पास 6,000 ग्राहक थे..वे हैदराबाद और उसके आसपास अपना दूध पहुंचाते थे. लेकिन फिलहाल यह 10,000 ग्राहकों तक दूध पहुंचाती है. इससे उनकी सालाना आमदनी करीब 44 करोड़ के घर में चली जाती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here