एक साधारण परिवार की महिला, बेहद गरीब थी, शुरू किया बिजनेस; आज हर महीने कमाती है लाखों रुपये

0
195

आज हम एक ऐसी सफल लड़की के बारे में बात करने वाले हैं जिसकी कहानी से आप जरूर प्रेरित होंगे. हम बात कर रहे हैं दीपिका बेलामुरूगन के बारे में जो कोयंबटूर में पली-बढ़ी हैं. दीपिका बेलामुरूगन एक सामान्य परिवार की लड़की है. दीपिका बेलामुरूगन पारंपरिक कोलम डिजाइनो की लकड़ी में डिजाइन का काम करती होती हैं. दीपिका बेलामुरूगन का ये डिजाइन आज उनके लिए कमाई का जरिया बन चूका है. जिससे वह हर महीने लाखो रुपये तक कमा रही हैं.

इस तरह मिली थी सीख
दीपिका खुद बताती हैं कि ऐसा करने की प्रेरणा उन्हें अपनी मां से मिली है. वास्तु शास्त्र के मुताबिक मेरी मां रोज घर के दरवाजे के सामने मुख्य द्वार पर चावल के आटे से कोल्लम बनाती थीं और यह कोल्लम दिखने में बहुत ही खूबसूरत लगता है. इससे प्रेरित होकर उन्होंने इसे बिजनेस में तब्दील कर दिया.

कॉस्टयूम डिजाइन में करी थी पढ़ाई
दीपिका ने कोयंबटूर में कास्ट्यिंम डिजाइन में बीएससी करी. अपनी पढ़ाई के कुछ ही दिनों बाद साल 2010 में उन्होंने शादी कर ली. और वे अपने परिवार के साथ श्रीरंगम में रहने लगी. जहां उन्होंने नौकरी छोड़ दी, उनके पास डिजाइनिंग के काम को आगे बढ़ाने के लिए पर्याप्त समय बिलकुल भी नहीं था. जिसे कुछ दिनों के लिए टाल दिया गया था.

मगर कई दिनों के बाद वह समय आया है जब उसे पर्याप्त मौका मिला और वह दुबारा से डिजाइनिंग के काम में जुट गई. बहुत जल्द ही उनके इस शौक ने व्यवसाय का रूप ले लिया.

अब दुनिया भर से आते है आर्डर
दीपिका का कहना हैं कि अब उनकी डिजाइनिंग को पसंद करने वाले लोग भारत में ही नहीं बल्कि विदेशों में भी हैं. साल 2019 से शुरू हुआ यह काम आज काफी बढ़ चुका है. पूरी दुनिया में लोग इसे खूब पसंद कर रहे हैं.

अब कर रही है विभिन्न आकारों में काम
दीपिका ने होम टू चेरिश नाम से एक इंस्टाग्राम वेंचर भी बनाया है. उन्होंने लकड़ी की दीवार या अलमारी से डिजाइनिंग का काम शुरू करा था. अभी यह विभिन्न आकारों में बदल चूका है. दीपिका फिलहाल वुडन प्लैंक्स, नेम बोर्ड्स, वॉल हैंगिंग्स और वुडन डोर चैनल्स में डिजाइनिंग का काम कर रही हैं. जिसे बहुत ज्यादा पसंद भी करा जा रहा है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here