एक IIT टॉपर, घरवालों को नौकरी का झूठ बोलकर आये थे मुंबई, मेहनत की; आज है 7 करोड़ रुपये के मालिक

0
217

जीतू भइया यानि की जितेंद्र कुमार को आप लोगो ने कोटा फैक्टरी के जीतू भइया, पंचायत के सचिव जी और इसके अलावा ट्रिपलिंग, पिचर्स, और टीवीएफ बैचलर्स में जरूर देखा होगा.

वह पहले ही अपनी परफॉर्मेंस से दर्शकों का दिल जीत चुके हैं. और साल दर साल ये लोगों के दिलों में जगह बना रहे हैं. कुछ समय पहले जितेंद्र शुभ मंगल ज्यादा सावधान में भी दिखे थे.

कॉलेज के थिएटर ग्रुप से लगा अभिनय का कीड़ा

जब वह कॉलेज के प्रथम वर्ष में थे तब जीतू भैया के दोस्तों ने उन्हें थिएटर के लिए ऑडिशन देने के लिए कहा लेकिन वे बहुत नर्वस थे. लेकिन उन्होंने ऑडिशन में अभिनय किया और सभी का दिल जीत लिया. फिर उसके बाद जीतू भैया कॉलेज के थिएटर ग्रुप का हिस्सा बन गए.

नौकरी नहीं मिली तो टीवीएफ का हिस्सा बने

ग्रेजुएशन के 4 साल बाद जितेंद्र को नौकरी की चिंता होने लगी. वह अपना कॉलेज कैंपस प्लेसमेंट ही चाहते थे लेकिन जीतू भइया को नौकरी नहीं मिली. वहीं जीतू भइया को एक दोस्त ने टीवीएफ के बारे में बताया, जिसे आईआईटी के छात्रों ने मिलकर बनाया था. टीवीएफ में अभिनेताओं की जरूरत थी और जीतू भैया को नौकरी की.

इंजीनियरिंग कि नौकरी मिलने के बाद बैंगलोर शिफ्ट हो गए

टीवीएफ में 3-4 महीने काम करने के बाद जीतू को बैंगलोर में नौकरी मिल गई और उनको फिर टीवीएफ छोड़ना पड़ा. वह बैंगलोर में स्थानांतरित हो गए और एक इंजीनियर के रूप में काम करना शुरू कर दिया. लगभग 1 साल नौकरी करने के बाद उन्हें एहसास हुआ कि उनका जीवन बहुत बोरिंग हो गया है. और उनके लिए 9-5 नौकरियां नहीं बनी हैं. इसके बाद जीतू भइया ने उस नौकरी को छोड़ दी. और एनएसडी के लिए आवेदन किया. जीतू भइया का पहला राउंड निकल जाने के बाद उन्हें इंटरव्यू में रिजेक्ट कर दिया गया.

नौकरी छोड़कर वापस टीवीएफ आ गए

शुरू में उनके परिवार ने उनका साथ बिलकुल भी नहीं दिया था मगर बाद में उनके पिता ने उनका साथ दिया जब जीतू ने मुंबई में जाकर एक्टिंग करने के बारे में बात कही तो फिर उनके घर वालों ने एक जीतू के सामने एक कंडीशन रखी कि वे मुंबई में जाकर नशे बिलकुल भी नहीं करेंगे और उन्होंने इस बात पर तुरंत हामी भर दी.

मुंबई आने के बाद, जितेंद्र कुमार को उनके कॉलेज के सीनियर बिस्वपति सरकार ने टीवीएफ में शामिल होने की पेशकश की थी. जीतू ने एक बार फिर से टीवीएफ जॉइन कर लिया और फिर जीतू की एक वेब सीरीज आई जिसका नाम टीवीएफ पिचर्स था. इस शो को यूट्यूब पर काफी देखा गया था.

टीवीएफ पिचर्स से मिली असली पहचान

टीवीएफ पिचर्स से ही जितेंद्र कुमार असली पहचान मिली. इस शो में उनके किरदार का नाम जितेंद्र माहेश्वरी रखा गया था. उन्होंने अपना असली नाम इस्तमाल करा. क्योंकि उनके वीडियो के काफी वायरल हो जाने के बाद भी लोग उनका असली नाम नहीं जानते थे. इस वजह से उन्होंने शो में अपना असली नाम रखने का आग्रह करा. आज बहुत से लोग जितेंद्र कुमार को पसंद करते हैं, लोग उनकी नई वेब सीरीज के आने का भी बेसब्री से इंतजार करते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here