कभी झोपड़ी में रह कर करते थे गुजरा, बदली किस्मत, आज है 30 करोड़ रुपये के मालिक

0
251

दिनेश लाल यादव भोजपुरी सिनेमा जगत के बहुत प्रसिद्ध अभिनेताओं में से एक हैं. इन्हे भोजपुरी फिल्मों का बादशाह भी कहा जाता है. उनके प्रशंसक उन्हें प्यार से निरहुआ बुलाते हैं. दिनेश लाल यादव आज बहुत बड़े मुकाम पर पहुंच गए हैं.

उन्होंने एक से बढ़कर एक फिल्में करके और गाने गाकर फैंस का दिल जित लिया है. आज सभी जानते हैं कि दिनेश लाल यादव आज किस ऊंचाई पर हैं मगर बहुत कम लोग ही यह जानते हैं कि वह इतने मशहूर कैसे हो गए, आज हम आपको दिनेश लाल यादव की सफलता के सफर के बारे में बताने जा रहे हैं.

बचपन में देखी गरीबी
दिनेश लाल किसी फिल्मी परिवार से नहीं हैं. बल्कि वह बेहद ही साधारण परिवार से हैं. उनका जीवन संघर्ष और कड़ी मेहनत से भरा रहा है. जब वे छोटे थे तो फिर उनके पिता महज 3500 की आमदनी से घर चलाते थे. उनके पास कहीं जाने के लिए साइकिल भी नहीं थी.

दिनेश लाल गाजीपुर के टंडवा गांव के रहने वाले हैं मगर परिवार की खराब आर्थिक स्थिति देखकर उनके पिता उन्हें और उनके भाई को अपने साथ ले गए और कलकत्ता के बेलघरिया चले गए. वहां वह एक झोपड़ी में रहकर अपने दिन गुजारने लगे.

इस तरह करी शुरुआत
दिनेश लाल उर्फ ​​निरहुआ के पिता यह चाहते थे कि वह कोई अच्छी नौकरी करें. मगर निरहुआ का मन तो किसी और में ही बसता था. इसी के चलते उन्होंने साल 2001 में एक म्यूजिक एल्बम ‘बुढ़वा में दम बा’ और ‘मलाई खाए बुढ़वा’ बनाया, जिससे लोग उन्हें पहचानने लगे. मगर जब उनका म्यूजिक एल्बम ‘निरहुआ सटल रहे‘ आया तो इस एल्बम ने धूम मचा दी. इस एल्बम ने उनकी जिंदगी बदल दी और वह एक बहुत ही सफल कलाकार बन गए.

इसके बाद निरहुआ ने एक से बढ़कर एक फिल्में करी. वह अमिताभ बच्चन के साथ भी नजर आए और बिग बॉस जैसे बड़े रियलिटी शो में भी नजर आए. आज वह एक सफल अभिनेता, गायक और नेता हैं. वह दिन-ब-दिन अपने हुनर ​​से लाखों दिलों पर कब्जा कर रहे हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here