चाय की दुकान पर पिता का हाथ बंटाने के साथ करता था UPSC की तैयारी और आज बन गया IAS अधिकारी

0
105

दुनियाभर में बहुत से लोग हालातों के चलते अपने जीवन के लक्ष्य को हासिल ही नहीं कर पाते है. वहीं कुछ लोग ऐसे भी हैं जो कड़ी मेहनत करने अपने हालातों की कठानियों को पार कर के बड़े से बड़े टारगेट को बिलकुल ही छोटा साबित कर देते हैं. ऐसा ही कुछ कर के दिखाया उत्तर प्रदेश के एक बहुत ही छोटे से गांव में रहने वाले हिमांशु गुप्ता ने. हिमांशु के पिता चाय बेचने का काम करते थे, जहां पर उन्होंने UPSC की तैयारी करी और CS-2019 में AIR-304 हासिल करी.

थर्ड अटेम्प्ट में बन गए IAS

बरेली के रहने वाले हिमांशु को फर्स्ट अटेम्प्ट में ही IRS की नियुक्ति मिल चुकी थी, फिर दूसरे अटेम्प्ट में हिमांशु को IPS की पोस्ट मिल गई थी. मगर उन्हें तो IAS ही बनना था, इस वजह से हिमांशु ने थर्ड अटेम्प्ट भी दिया और साल 2019 में एग्जाम को क्लीयर कर के IAS बन गए.

चाय की दुकान पर करा था फैसला

हिमांशु के पिता चाय बेचने का काम करते थे, हिमांशु भी वहीं पर ही बैठकर न्यूज पेपर को पढ़ा करते थे. अखबार को पढ़ते हुए हिमांशु ने UPSC का एग्जाम देने का सोचा और फिर इसकी प्रिपरेशन भी करने लगे. अपने इस एग्जाम की तैयारी करने के लिए हिमांशु दिल्ली नहीं गए और अपने पिताजी की ही चाय की दुकान पर बैठकर ही डिजिटल माध्यम से पढ़ाई करने लगे.

UPSC एग्जाम की तैयारी कर रहे स्टूडेंट्स को दीं ये टिप्स

हिमांशु ने UPSC एग्जाम की तैयारी करने वाले सभी स्टूडेंट्स के लिए यह कहा है कि UPSC के एग्जाम को क्लीयर करने के लिए किसी भी अभ्यर्थियों को कोई भी बड़े शहर में जाकर पढ़ाई करने की जरूरत बिलकुल भी नहीं है. उनका यह कहना कि यदि अभ्यर्थी सही प्लानिंग तैयारी करें तो फिर वे डिजिटल रूप से भी एग्जाम आसानी से क्लीयर कर सकते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here