दुकान दारोंकी परेशानी से दिमाग में आया खतरनाक बिजनेस आइडिया, आज खड़ी कि 700 करोड़ रुपये की कंपनी

0
3429

अगर लक्ष्य को पाने के लिए सच्ची लगन से मेहनत करी जाए तो फिर लक्ष्य को प्राप्त करने से कोई भी नहीं रोक सकता है. ये तो अक्सर अपने सुना होगा और बहुत से लोग ऐसे भी हैं जिन्होंने इसे बिलकुल सच साबित भी कर दिखाया है. मगर सिर्फ 23 साल की उम्र में ही यदि कोई इस तरह का कारनामा कर दिखाए तो फिर इस पर यकीन करना बहुत ही मुश्किल हो जाता है. शाश्वत नकरानी वो व्यक्ति है जिन्होंने यह अच्छे से साबित कर दिया कि मेहनत हमेशा ही रंग लाती है.

आईआईएफएल वेल्थ हुरून इंडिया रिच लिस्ट 2021 की लिस्ट में 46 स्टार्टअप संस्थापकों के नाम शामिल हुए थे, जिनमे से एक नाम शाश्वत नकरानी का भी शामिल है, जो की इस लिस्ट में सबसे कम उम्र के स्टार्टअप कारोबारी हैं. तो चलिए आज जानते हैं शाश्वत नकरानी के बारे मे.

19 साल की उम्र में बनाया था भारतपे पेमेंट ऐप

शाश्वत नकरानी ने साल 2018 में सिर्फ 19 साल की उम्र में हे अश्नीर ग्रोवर के साथ मिलकर भारतपे क्यूआर कोड बनाया था. और आज के समय में भारतपे इतना ज्यादा सफल हो चूका है कि शाश्वत नकरानी का नाम सबसे कम उम्र के सेल्फ मेड इंडीविजुअल के तौर पर IIFL वेल्थ हुरुन इंडिया रिच लिस्ट 2021 में भी आ चूका था.

भारतपे से जुड़ चुके है 70 लाख से ज्यादा मर्चेंट

भारतपे एक ऐसा इकलौता क्यूआर कोड है, जिसकी मदद से सभी पेमेंट प्लेटफॉर्म पेटीएम, गूगल पे, फोनपे अमेजन पे समेत 150 UPI पेमेंट ऐप्स के द्वारा स्वीकार करा जाता है. आपको यह भी बता दे की इस वक्त भारतपे से लगभग 70 लाख से भी ज्यादा मर्चेंट जुड़ चुके हैं. भारतपे की मदद से लगभग 11 करोड़ से भी ज्यादा यूपीआई ट्रांजेक्शन करी जा चुकी है.

शाश्वत नकरानी ने ऐसे करी थी शुरुआत

शाश्वत नकरानी ने मार्केट में एक बहुत ही बड़े गैप की पहचान कर एक इस तरह के पेमेंट गेटवे की जरूरत महसूस करी, जिसे की सभी मर्चेंट आसानी से एक्सेस कर सकें और जो की उनके मार्जिन में कटौती बिलकुल भी न करे. फिर इसके बाद उन्होंने एक इस तरह के सॉल्युशन पर काम करना शुरू कर दिया, जो की यूपीआई के इंटरऑपरेबिलिटी फीचर की मदद से सभी मर्चेंट्स की काफी ज्यादा मदद कर सके. शाश्वत नकरानी के इस सॉल्युशन से मर्चेंट को अलग-अलग तरह के पेमेंट ऐप्स के लिए अलग-अलग क्यूआर कोड लगाने के झंझट से बिलकुल ही मुक्ति मिल चुकी है.

आईआईटी दिल्ली से पूरी करी पढ़ाई

शाश्वत नकरानी ने आईआईटी दिल्ली से अपनी पढ़ाई पूरी करी थी और उन्होंने ने साल 2015 में आईआईटी दिल्ली जॉइन करा था. टेक्सटाइल टेक्नोलॉजी में शाश्वत नकरानी ने अपना ग्रेजुएशन पूरा करा था.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here