पिता का सपना था बेटा बड़ा हो कर बड़ा आदमी बनें, बदली किस्मत; आज है 25 करोड़ रुपये के मालिक

0
316

आज बी प्राक म्यूजिक इंडस्ट्री का जाना-माना सितारा है, जिसे लोग खूब पसंद करते हैं. बी प्राक उन टॉप सिंगर्स में से एक हैं जिनके गानों का लोग बेसब्री से इंतजार करते हैं. हम सभी ने बी प्राक को ऊंचाइयों को छूते देखा है लेकिन बहुत कम लोग जानते हैं कि उन्हें यह सफलता कैसे मिली.

पिता हो चाहते थे कि बीटा बने सिंगर
बी प्राक का असली नाम प्रतीक बचन है. वह एक संगीत निर्देशक, संगीतकार और गायक भी हैं. चंडीगढ़ में जन्मे बी प्राक एक म्यूजिकल बैकग्राउंड से ताल्लुक रखते हैं. वह शुरू से ही सिंगर बनना चाहता था और उन्होंने इस बारे में अपनी मां को भी बताया था मगर उनके पिता चाहते थे कि वह सिंगर नहीं बल्कि म्यूजिक डायरेक्टर बने.

पंजाबी म्यूजिक इंडस्ट्री में आने से पहले उन्होंने 10 साल तक सिंगिंग सीखी थी. क्योंकि उनके पिता खुद एक डायरेक्टर थे, इसलिए वे उन्हें पढ़ाते भी थे. पिता के इस इंडस्ट्री में होने के बावजूद बी प्राक के लिए यह सफर आसान नहीं था.

30 रुपये मिलती थी खर्ची
2 साल तक बी प्राक के पिता उन्हें सिर्फ 30 रुपये प्रतिदिन देते होते थे. कुछ रुपये आने-जाने के लिए और 10 रुपये कुछ खाने के लिए. उनके पिता का मानना ​​था कि अगर कोई तप कर सामने आता है तभी वे रोशन हो पाता है. 30 रुपये लेकर वह ऑडिशन देने जाते होते थे. कई बार ऐसा होता था कि लोग उनके साथ काम नहीं करना चाहते थे और उन्हें काम नहीं मिल पाता था.

वह जानी और हार्डी संधू से कई साल पहले एक अमेरिकी शराबी एल्बम के प्रोजेक्ट के लिए मिले थे और उन दिनों अरविंदर खेरा भी उनसे मिले थे. इन चारों की जोड़ी से मिलना उनके करियर का एक अनोखा मोड़ था हालांकि, जिस प्रोजेक्ट के लिए वे मिले थे वो नहीं हो सका था.


मगर बाद में उनकी मुलाकात काफी अच्छी साबित हुई इन चारों ने मिलकर पहला गाना ‘सोच तो पारे’ बनाया. इस गाने को लोगों ने खूब पसंद भी किया था. इस गाने ने इन चारों की जिंदगी हमेशा के लिए बदल कर रख दी.

इस गाने से हुए सफल
बी प्राक का पहला गाना ‘मन भरर्या’ था. लोगों को यह गाना इतना पसंद आया कि आज तक इस गाने ने लोगों का मन नहीं भरा. बी प्राक ने नवाजुद्दीन सिद्दीकी के साथ “बारिश की जाए” और अक्षय कुमार के साथ “फिलहाल” गाया है. जो सुपरहिट रही है. बी प्राक के गाने ‘फिलहाल’ को 1 बिलियन से भी ज्यादा व्यूज मिल चुके हैं.

उन्हें उनके गाने के लिए नेशनल अवॉर्ड भी मिल चुका है. आज बी प्राक ने बड़े कलाकारों को संगीत दिया है और गीतों की रचना की है. आज वो खुद अपने गानों से लोगों के दिलों पर राज करते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here