मुंबई में पढ़े-लिखे, विदेशी कंपनी को इंप्रेस कर सीईओ बने; आज है 1200 करोड़ रुपये के मालिक

0
329

आज हम बात करने जा रहे हैं ट्विटर के सीईओ पराग अग्रवाल की. 29 नवंबर 2021 को ट्विटर के सह-संस्थापक जैक डॉर्सी ने ट्विटर के सीईओ पद से इस्तीफा दे दिया और उन्होंने पराग अग्रवाल को ट्विटर का नया सीईओ बनाने का भी ऐलान किया.

पराग अग्रवाल जीवनी

साल 1984 में अजमेर के जेएलएन अस्पताल में पराग अग्रवाल का जन्म हुआ था. उनके पिता का नाम रामगोपाल अग्रवाल है और मां का नाम शशि अग्रवाल है. पराग के पिता मुंबई में बीएमसी में काम करते होते थे. उनके जन्म के कुछ समय बाद ही उनका परिवार मुंबई में रहने लगा था. पराग की पत्नी का नाम विनीता अग्रवाल है.

पराग अग्रवाल की शिक्षा

उन्होंने अपनी स्कूली पढ़ाई परमाणु ऊर्जा सेंट्रल स्कूल से पूरी करी है. फिर पराग अग्रवाल ने आईआईटी बॉम्बे से इंजीनियरिंग की पढ़ाई करी. इसके बाद पराग अग्रवाल ने स्टैनफोर्ड यूनिवर्सिटी से डॉक्टरेट करा. स्टैनफोर्ड में पढ़ाई के दौरान पराग अग्रवाल ने याहू, माइक्रोसॉफ्ट, और एटीएंडटी लैब्स में इंटर्न के रूप में भी काम करा.

ऐसे शुरुआत हुई थी पराग अग्रवाल के करियर की

एटीएंडटी, माइक्रोसॉफ्ट, और याहू जैसी कंपनियों के साथ एक छात्र के रूप में काम कर चुके पराग अग्रवाल ने साल 2011 में ट्विटर पर काम करना शुरू किया था. शुरुआत में पराग अग्रवाल ने विज्ञापन से जुड़े उत्पादों पर काम करना शुरू करा था. फिर बाद में उन्होंने आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस पर काम करना शुरू किया. 8 मार्च 2018 को, ट्विटर ने पराग अग्रवाल को सीटीओ के रूप में सेवा देने के लिए चुना. ट्विटर से जुड़ने के महज 10 साल बाद ही वे ट्विटर के नए सीईओ बन गए.

पराग अग्रवाल की नेट वर्थ

पराग अग्रवाल की कुल संपत्ति 1210 करोड़ से ज्यादा है. वहीं अगर उनकी सैलरी की बात करें तो एसईसी के दस्तावेज के मुताबिक उनकी बेस सैलरी 10 लाख डॉलर (करीब 7.5 करोड़ रुपये) से ज्यादा हो सकती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here