लाखों रुपये की नौकरी छोड़कर की थी बिजनेस की शुरुवात, आज है 100 करोड़ रुपये के मालिक

0
118

सोशल मीडिया में आज के समय में काफी ज्यादा चर्चित चेहरों में से एक हैं अंकुर वारिकू. वह अपने 40 लाख फॉलोअर्स को पैसों से लेकर जीवनसाथी तक के विषयों पर सलाह भी देते होते हैं. यूट्यूब पर अकुर के करीब 1.2 मिलियन से भी ज्यादा सब्सक्राइबर हैं. आज वह एक टीचर, कंटेंट क्रिएटर, एंटरप्रेन्योर, और मेंटर हैं.

​कब शुरू करा था पहला वेंचर
अंकुर ने मई 2006 से लेकर अप्रैल 2009 तक एटी कियर्नी में काम करा था. एटी कियर्नी में नौकरी करने के साथ-साथ ही, अंकुर ने इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस के अपने कुछ बैचमेट्स के साथ SecondShaadi.com वेंचर शुरू कर दिया था.

साल 2009 में, अंकुर ने अपनी नौकरी छोड़ दी और पूर्णकालिक रूप से अपने स्टार्टअप में शामिल हो गए. और अगले कुछ वर्षों तक ऑटोमोबाइल, शिक्षा, वित्त क्षेत्रों में बहुत सी वेबसाइटें बनाईं. बड़े नामों में से एक Gaadi.com था, जिसे की साल 2010 में goibibo.com को बेच दिया जा चूका था.

साल ​2011 में Groupon से जुड़े
अंकुर मार्च साल 2011 में ग्रुपन में अपने भारतीय कारोबार के संस्थापक सीईओ के रूप में शामिल हुए. अंकुर इस पद पर जुलाई 2015 तक रहे. अंकुर जून 2013 से दिसंबर 2014 तक Groupon APAC इमर्जिंग मार्केट्स (भारत, इंडोनेशिया, थाईलैंड, फिलीपींस) के प्रमुख भी थे. इसके बाद अंकुर ने ग्रुपन इंडिया को nearbuy.com में बदलने के लिए मैनेजमेंट बायआउट करा और इस ऑनलाइन प्लेटफॉर्म के कोफाउंडर और सीईओ भी बन चुके थे. सिकोइया कैपिटल इंडिया के सहयोग से, nearbuy.com को एक स्वतंत्र कंपनी बनाया गया था.

कंपनी के बोर्ड में ​नवंबर 2019 में हुए थे शामिल
अंकुर ने नवंबर 2019 में नियरबाय डॉट कॉम के सीईओ पद से इस्तीफा दे दिया था और फिर अंकुर कंपनी के बोर्ड में शामिल हो चुके थे. अक्टूबर 2019 में, अंकुर ने वारिकू ब्रांड के साथ एक शिक्षक और कंटेंट क्रिएटर के रूप में शुरुआत करी.

​80,000 से भी ज्यादा स्टूडेंट कोर्सेज कर चुके हैं अटेंड
अंकुर वारिकू उद्यमिता, करियर प्रबंधन और व्यक्तिगत विकास पर पाठ्यक्रम प्रदान करता है. इन पाठ्यक्रमों में अब तक 80,000 से अधिक छात्र भाग ले चुके हैं. अंकुर के इंस्टाग्राम, ट्विटर, लिंक्डइन, और यूट्यूब पर काफी ज्यादा फॉलोअर्स हैं.

अंकुर वारिकू फॉर्च्यून पत्रिका की भारत के लिए 40 अंडर 40 सूची; लिंक्डइन इंडिया की स्पॉटलाइट लिस्ट, लिंक्डइन इंडियाज टॉप वॉयस, और बिजनेस टुडेज इंडियाज टॉप एग्जीक्यूटिव अंडर 40 लिस्ट 2018, 2019 और 2020 का हिस्सा रहे हैं. इसके साथ ही अंकुर जुलाई 2014 से लेकर जुलाई 2017 तक इंडियन स्कूल ऑफ बिजनेस के नेक्स्ट जेनरेशन लीडर्स बोर्ड के सदस्य भी रह चुके हैं. वह ‘डू एपिक शिट’ पुस्तक के लेखक भी हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here