स्कूल की पढ़ाई छोड़कर शुरू की कंपनी, आइडिया जबरदस्त था; आज है 5 लाख करोड़ रुपये का मालिक

0
296

‘सवाल ये नहीं है कि कोई व्यक्ति आपके बारे में क्या जानना चाहते हैं, बल्कि सवाल तो यह है कि लोग अपने बारे में आखिर क्या बताना चाहते हैं.’ इस बात को मार्क जकरबर्ग ने साल 2011 में एक इंटरव्यू के दौरान कही थी. फेसबुक के लिए मार्क का बयान ये भी साबित करता है कि लोगों के पास कम्युनिकेशन करने का इससे बेहतर तरीका और कोई नहीं है. फेसबुक सफलता के कारण साल 2007 में मार्क जकरबर्ग अरबपति बन चुके थे. उस समय वह केवल 23 वर्ष के थे.

छोटी उम्र से ही था कंप्यूटर का शौक
मार्क को 12 साल की उम्र से ही कंप्यूटर का बहुत शौक था. प्रोग्रामिंग डेलवपमेंट के लिए उनका प्यार तब बढ़ गया जब उनके पिता ने उन्हें सी++ नाम की एक किताब भेंट की. इसके बाद जकरबर्ग ने एक ऐसा बेसिक मैसेजिंग प्रोग्राम जकनेट बनाया. जिसका इस्तेमाल उनके पिता ने अपने डेंटल ऑफिस में किया था. इस कार्यक्रम के जरिए उनके रिसेप्शनिस्ट उन्हें इसकी जानकारी देते थे.

जकरबर्ग का मानना ​​है कि जीवन में जोखिम उठाना ही सफलता की गारंटी है. मार्क ने कभी नौकरी का लालच नहीं करा था. महज 17 साल की उम्र में मार्क ने दोस्तों के साथ मिलकर सिनैप्स मीडिया प्लेयर बनाया था, जो यूजर की पसंद के गानों को स्टोर करता था.

फेसेसमास नाम से बनाई थी पहली वेबसाइट
जकरबर्ग यह सिखने के लिए इतने उत्सुक थे कि फेसबुक से पहले उन्होंने फेसेसमास नाम की एक वेबसाइट का निर्माण करा था. इस साइट में दो छात्रों की तस्वीरों की एक साथ तुलना की जा सकती थी और यह तय करा जा सकता है कि कौन अधिक हॉट है. इस वेबसाइट ने स्कूल में काफी विवाद पैदा कर दिया था. छात्रों का मानना ​​था कि इस तरह से फोटो अपलोड करना उनकी निजी जिंदगी में दखल देने जैसा है. मगर मार्क ने हिम्मत नहीं हारी और फेसेसमास के यूजर्स की संख्या करीब दस लाख पहुंच गई.

साल 2004 में जकरबर्ग ने अपने दोस्तों के साथ मिलकर द फेसबुक नाम से एक ऐसी साइट बनाई जिस पर कोई भी यूजर अपनी प्रोफाइल बनाकर फोटो अपलोड कर सकता था. इसके बाद जकरबर्ग ने कॉलेज छोड़कर अपना सारा समय फेसबुक को देने लगे. फेसबुक की सफलता का अंदाजा आप इस बात से लगा सकते हैं कि साल 2004 के अंत तक फेसबुक के 10 लाख यूजर्स हो गए थे.

करोड़ों कि संपत्ति के है आज मालिक
वेंचर कैपिटल एक्सेल पार्टनर ने वर्ष 2005 में फेसबुक नेटवर्क में $ 12.7 मिलियन का निवेश किया था. फेसबुक को सबसे पहले आईवे लीग के छात्रों के लिए ही खोला गया था इसके बाद दूसरे कॉलेज, स्कूल, इंटरनेशनल स्कूल के लोग भी इसमें शामिल होने लगे. दिसंबर 2005 तक, इस साइट की सदस्यता 5.5 मिलियन यूजर्स तक हो चुकी थी.

टाइम पत्रिका ने उन्हें 2010 में पर्सन ऑफ द ईयर और फोर्ब्स ने उन्हें दुनिया के सबसे शक्तिशाली लोगों की सूची में 35 वां स्थान दिया. साल 2022 में जारी आंकड़ों के मुताबिक, फेसबुक के सीईओ मार्क जकरबर्ग की अनुमानित कुल संपत्ति 5,010 करोड़ यूएसडी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here