2000 रुपये उधार लेकर शुरू की कंपनी, अंबानी को भी देते है टक्कर; आज है 1 लाख करोड़ रुपये के मालिक

0
150

बहुत से लोगों ने दवा कंपनी सन फार्मा के उत्पाद का इस्तेमाल करा ही होगा. सन फार्मा कंपनी के संस्थापक दिलीप संघवी ने करीब दो हजार रुपये उधार लेकर इस कंपनी की शुरुवात करी थी. आज के समय में दिलीप संघवी हजार अरब से भी ज्यादा के मालिक बन चुके है. एक समय ऐसा भी था जब दिलीप संघवी मुकेश अंबानी को पीछे छोड़कर भारत के सबसे अमीर व्यक्ति भी बन चुके थे.

2000 उधार लेकर दिलीप संघवी ने शुरुवात करी थी कंपनी की

गुजरात में एक दवा वितरक के घर में जन्मा यह व्यक्ति एक समय में पूरे दवा बाजार का मुखिया बन जाएगा. दिलीप संघवी ने कोलकाता से ग्रेजुएट हुए थे और फिर उसके तुरंत बाद ही उन्होंने व्यवसाय करने का सोच लिया था. अरबपतियों की संपत्ति का आकलन करने वाली पत्रिका फोर्ब्स की मानी जाए तो फिर दिलीप संघवी ने अपना कारोबार शुरू करने के लिए अपने पिता से दो हजार रुपये उधार में लिए थे. फिर इसके बाद दिलीप संघवी ने पांच वितरकों को साथ लेकर सन फार्मा नाम की कंपनी की शुरुआत कर दी थी.

लगभग दो लाख करोड़ का है सन फार्मा का मार्केट कैप

शुरुआत में दिलीप संघवी की यह कंपनी सिर्फ मनोरोग की ही कुछ दवाएं बनाती होती थी. फिर दिलीप संघवी की इस कंपनी का धीरे-धीरे से पोर्टफोलियो विस्तार करता गया और आज के समय में दिलीप संघवी की यह कंपनी सन फार्मा हजारों प्रोडक्ट शामिल कर चुकी हैं, जिनमें वॉलिनी और रिवाइटल जैसे बिलकुल ही आम हो चुके उत्पाद हैं. इसके साथ ही यह कंपनी शेयर बाजार में लिस्टेड सबसे ज्यादा बड़ी भारतीय दवा कंपनी भी बन चुकी है. आज सन फार्मा का मार्केट कैप लगभग 2 लाख करोड़ रुपये के करीब है.

मुकेश अंबानी को कभी पछाड़ चुके हैं दिलीप संघवी

फोर्ब्स के मुताबिक, अभी के समय में दिलीप संघवी करीब 1,076 अरब रुपये के मालिक है. अभी के समय में भले ही दिलीप संघवी दस सबसे अमीर भारतीय लोगो की लिस्ट से बाहर हो चुके हों, मगर समय ऐसा भी था, जब दिलीप संघवी कुछ समय के लिए मुकेश अंबानी जैसे बड़े बिजनेसमैन को पीछे छोड़ कर सबसे अमीर भारतीय व्यक्ति बन चुके थे.

कोरोना काल में दिलीप संघवी की संपत्ति में 17 फीसदी का इजाफा

कोविड-19 का समय बहुत से लोगों के लिए काफी ज्यादा खराब रहा था, मगर कई लोगों को इससे बहुत ही ज्यादा फायदा हुआ. दिलीप संघवी भी इन्हीं लोगों में से एक जिनको कोरोना काल में भी बहुत ज्यादा फायदा हुआ है. वर्ष 2020 में दिलीप सांघवी की संपत्ति में करीब 17 फीसदी यानी 12,500 करोड़ रुपये का इजाफा हुआ. पिछले लगभग एक साल में दिलीप संघवी की कंपनी सन फार्मा के शेयर की कीमत में लगभग 60 प्रतिशत से भी ज्यादा की बढ़ोतरी हुई है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here