2014 में रोटी का जुगाड़ नहीं कर पा रहे थे, जीरो से की शुरुवात; आज है 30 करोड़ रुपये के मालिक

0
19662

आज बात करते हैं अभिनय शर्मा की जिनका जन्म 19 नवंबर 1990 को बुलंदशहर, राज्य – (उत्तर प्रदेश) के एक बहुत छोटे से गाँव में हुआ था. उन्होंने अपनी स्कूली शिक्षा एक छोटे से गाँव के एक ग्रामीण स्कूल में की. अभिनय शर्मा ने अपनी पढ़ाई एक छोटे से स्कूल में की है, जो चारदीवारी से ढकी नहीं थी, यह हर दिशा से खुला था और छात्रों को कोई उचित सुविधा नहीं दी जाती थी.

स्कूल की दीवारों टूटे फुटे थे यंहा तक की बैठने के लिए बेंच भी नहीं था सभी बच्चों को घर से बैठने के लिए बोरी लाना पड़ता था. स्कूल मे पढ़ाई की स्थिती भी इतनी नाजुक थी की बच्चे जब चाहे स्कूल से निकल जाते थे और जब चाहें स्कूल में आ जाते थे. 5वीं क्लास तक अभिनय शर्मा के पास किताब रखने के लिए कोई बैग नहीं था. वह बोरी में किताब लेकर स्कूल जाया करते थे.

वह बचपन से ही पढ़ाई में बहुत तेज थे. वो एक इंटरव्यू में कह रहे थे की आज में जो कुछ भी हूं गणित की वज़ह से हूँ. अभिनय शर्मा का बचपन से सपना रहा था अभिनेता बनने का लेकिन उनके माता-पिता ऐसा नहीं चाहते थे. उनके पारिवार का सपना था मेरा बेटा सरकारी नौकरी करे.

कॉलेज की पढ़ाई पूरी करने के बाद अभिनय शर्मा साल 2012 में दिल्ली आ गए. जहां उनकी प्लेसमेंट तो हो गई थी लेकिन जॉइनिंग आने में काफी समय लग गया था. जब वो पहली बार घर से बाहर दिल्ली गए थे तो उसे वहां मन नहीं लग रहा था क्योंकि वह पहली बार अपने परिवार के बिना घर से दूर रहने गये थे.

अभिनय शर्मा 2012 में अपने परिवार के साथ दिल्ली गए. जँहा वो अपने परिवार के साथ ग्रेटर नोएडा शिफ्ट हो गए करीब 15 से 20 रहने के बाद अचानक घर का मालिक आता है और कहता है कि घर खाली कर दो इतना ही नही किराये दार कहता है की मैंने अपना मकान किराए पर दिया ही नहीं है. आपने किस डीलर से कमरे को किराये पर लिया है मे नही जानता हूँ आपको जल्द ही घर खाली करनी है. अभिनय शर्मा कहते है को वो दिन मेरे जिंदगी का सबसे बुरा रहा था.

अविनय शर्मा का बचपन से एक सपना था की मेरे पास एक महंगी मर्सिडीज कार,और एक बड़ा सा बंगला हो. 2012 में दिल्ली आने के बाद मुखर्जी नगर मे शिफ्ट हो गए. वह प्रतिदिन मुखर्जी नगर से तीन किमी दूर ट्यूशन पढ़ाने जाया करते थे. उन्हें इन्स्टिट्यूट मे बच्चों को पढ़ाने के लिए करीब 6 हजार रुपये मिलते थे. वर्ष 2012 में उनका SSC में चयन हो गया लेकिन उसने ये जॉब नहीं किया. उनका मानना ​​था कि इस नौकरी से मैं अपने सपने को कभी पूरा नहीं कर पाऊंगा. जिसके बाद वो दोबारा से पढ़ाना शुरू कर दिया.

साल 2013 में उन्होंने Play With Advanced नाम की किताब लिखना शुरू किया, इस किताब को लिखने के लिए वे सुबह तीन बजे तक जगे रहते थे पब्लिश के बाद इस पुस्तक को कोई खास प्रतिक्रिया नहीं मिली लेकिन कुछ समय बाद यह एक बेस्टसेलर पुस्तक के रूप में उभरी. साल 2016 में उनका चयन एक कंपनी में हो गया और उन्होंने मुंबई जाकर पांच-छह महीने की नौकरी भी की लेकिन इस काम के लिए उन्होंने वेतन नहीं लिया.

मुंबई से आने के बाद उन्होंने दोबारा कोचिंग पढ़ाना शुरू किया कई महीनों तक पढ़ाने के बाद किराए पर कमरा लेकर अपनी कोचिंग खोली जिसका सुपर थर्टी नाम दिया. कुछ समय बाद उन्होंने यूट्यूब के बढ़ते क्रेज को देखते हुए यूट्यूब पर अपना चैनल बनाया.उन्होंने यूट्यूब चैनल के माध्यम से पढ़ाना शुरू किया. उनके पढ़ाने के अनूठे तरीकों ने उन्हें बहुत ही कम समय में प्रसिद्ध कर दिया. आज की तारीख में उनके यूट्यूब चैनल से 20 लाख से ज्यादा लोग जुड़ चुके हैं और उनकी लोकप्रियता दिन-ब-दिन तेजी से बढ़ती जा रही है. आज वे भारत के प्रतिष्ठित शिक्षकों में से एक हैं. इंटरनेट पर मिली खबरों के मुताबिक अभिनय शर्मा की कुल संपत्ति 30 करोड़ रुपये है

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here