21 की उम्र में जूझ रही थी बड़ी बिमारी से, नहीं मानी हार, आज है 700 करोड़ रुपये की मालकिन

0
154

साहस और कड़ी मेहनत से जीवन में हर सफलता हासिल करी जा सकती है. JetSetGo की संस्थापक कनिका टेकरीवाल सबके लिए इसका जीता-जागता उदाहरण हैं. 21 साल की उम्र में कनिका टेकरीवाल ने कैंसर जैसी बीमारी को मात दे दी थी.

फिर कनिका टेकरीवाल ने 22 साल की उम्र में एविएशन बेस्ड स्टार्टअप शुरू करा और आज 32 साल की उम्र में वे 10 प्राइवेट जेट की मालकिन हैं. आज हम आपको इस महिला की सफलता की कहानी बताने जा रहे हैं.

आखिर कौन हैं कनिका टेकरीवाल

कनिका टेकरीवाल ने अपनी स्कूली शिक्षा दक्षिण भारत से की और फिर अर्थशास्त्र में स्नातक की डिग्री और मुंबई में डिजाइन में डिप्लोमा करा हुआ है. मारवाड़ी परिवार में जन्मीं कनिका टेकरीवाल एमबीए ग्रेजुएट हैं. कनिका टेकरीवाल के पिता रियल एस्टेट और केमिकल का बिजनेस करते थे.

एविएशन बेस्ड स्टार्टअप शुरू करने का विचार कैसे आया?

जब कनिका ने विमानन उद्योग में शोध किया, तो उन्हें पता चला कि निजी तौर पर चार्टर्ड विमान उद्योग दलालों और ऑपरेटरों से भरा हुआ है. अगर कोई भी व्यक्ति निजी जेट को उपयोग करना चाहता है तो फिर उसे किसी दलाल या फिर निजी ऑपरेटर से बात करनी होगी, फिर वे इन जेट या फिर हेलीकॉप्टर की सिफारिश करेगा और फिर इसके बदले में एक बड़ा कमीशन भी ले लेगा.

साल 2012 को करी थी कंपनी की शुरुआत

JetSetGo का सफर साल 2012 में शुरू हुआ था. JetSetGo एक प्लेन एग्रीगेटर है. जो मालिकों के लिए विमानों का संचालन, प्रबंधन और उड़ान भरता है. साथ ही कंपनी लोगों को किराए पर प्राइवेट जेट और हेलिकॉप्टर मुहैया कराती है.

कनिका कई लोगों से मिलीं जिन्होंने कहा कि भारत में प्राइवेट जेट बुकिंग का अनुभव बहुत बेकार रहा है. इसके अलावा, कई निजी जेट मालिक थे जो बढ़ती लागत, नियमित रखरखाव और अन्य समस्याओं के कारण अपने विमानों को बेच रहे थे. ऐसे में उन्होंने पारदर्शिता लाने और चार्टर्ड प्लेन उपलब्ध कराने के लिए JetSetGo की शुरुआत करी थी.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here