50 बार हो गई थी इंटरव्यू में फेल, मगर नहीं मानी हार; आज गूगल ने दिया 1 करोड़ रुपये का ऑफर

0
98

ऐसा कहा जाता है कि कोशिश करने वालों की कभी भी हार नहीं होती. यदि कोई भी सफलता की ऊंचाइयों पर चढ़ना चाहता हैं तो फिर अपने काम के प्रति लगन और कड़ी मेहनत को बिलकुल भी मत छोड़ो. आपके ख्वाब भी एक न एक दिन जरूर पूरे होंगे. लगन और मेहनत के दम पर ऐसा ही कर के दिखा दिया है बिहार की एक 24 साल की लड़की संप्रीति यादव ने, एक जमाना था जब संप्रीति यादव लगातार करीब 50 इंटरव्यू में फेल हो चुकी थीं और संप्रीति यादव के पास कोई भी नौकरी नहीं थी.

50 बार इंटरव्यू में असफल होने के बाद गूगल में मिली नौकरी

हालांकि इतनी बार असफल और फेल होने के बाद भी संप्रीति ने हार नहीं मानी और आज संप्रीति यादव के पास चार-चार कंपनियों का ऑफर है. सिर्फ यही ही नहीं यादव को गूगल कंपनी ने करीब 1.10 करोड़ रुपये का सालाना पैकेज का भी ऑफर दिया है और संप्रीति ने इस ऑफर को स्वीकार कर लिया है. उनकी इस सफलता से आज उनके परिवार में खुशी की लहर दौड़ गई है और अब संप्रीति यादव के परिजन बहुत ही गौरवान्वित महसूस कर रहे है.

संप्रीति यादव ने 14 फरवरी से गूगल में काम करना शुरू कर दिया था. उन्होंने अपनी बीटेक कंप्यूटर साइंस की डिग्री दिल्ली टेक्नोलॉजिकल यूनिवर्सिटी से हासिल करी है. आप लोगो को यह भी बता दें कि संप्रीति के लिए गूगल की इस नौकरी को हासिल करना आसान बिलकुल भी नहीं था. इसके लिए संप्रीति ने 9 राउंड की परीक्षा पास करी है. गूगल ने उनसे 9 राउंड का इंटरव्यू लिया था. इन 9 राउंड में उन्होंने सभी सवालों के सही जवाब दिए. फिर इसके बाद संप्रीति को गूगल की तरफ से इतने बड़े पैकेज वाली नौकरी का ऑफर दिया गया.

माइक्रोसॉफ्ट ने भी दिया था ऑफर

संप्रीति यादव को माइक्रोसॉफ्ट की कंपनी से भी नौकरी का ऑफर मिला था. संप्रीति ने खुद यह बताया है कि गूगल के इंटरव्यू के लिए उन्होंने बहुत ही ज्यादा मेहनत करी थी. हर राउंड में उनके जवाब से अधिकारी पूरी तरह से संतुष्ट होते थे. संप्रीति यह भी कहती हैं कि यदि कुछ बड़ा करना चाहते हैं तो फिर सबसे पहले अपना लक्ष्य को तय करें और फिर ही इसके बाद उसी लक्ष्य के हिसाब से अपनी तैयारी को आगे बढ़ाएं, और फिर आपको सफलता जरूर मिलेगी. संप्रीति यादव का बचपन से सपना था कि उनको गूगल के लंदन ऑफिस में काम करे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here