60 लाख रुपये का कर्जा निकालकर शुरू किया था बिजनेस, आज बन चुके है 10,000 करोड़ रुपये के मालिक

0
147

सफलता किसी भी व्यक्ति को आसानी से नहीं मिलती होती है. सफलता को पाने के लिए हर व्यक्ति को बड़ी कीमत चुकानी पड़ती है. और ऐसे में सफलता की कहानी और भी दिलचस्प हो जाती है जब उस व्यक्ति का नाम दुनिया के सबसे अमीर लोगो की लिस्ट में आता है.

ऐसे ही एक व्यक्ति का नाम है टीएस कल्याणरमण. आइए जानते हैं क्या है टीएस कल्याणरमण की सफलता का राज.

कपड़े की दुकान से करी थी करियर की शुरूआत

टीएस कल्याणरमन ने अपने करियर की शुरुआत कपड़े की एक छोटी सी दुकान से करी थी. अपनी इस दुकान संभालने के साथ-साथ ही टीएस कल्याणरमन ने अपनी पढ़ाई भी जारी रखी हुई थी.

टीएस कल्याणरमन की कपड़े की दुकान के आसपास सोने-चांदी की दुकानें होती थीं.और इन सोने-चांदी से घिरे रहने के बाद टीएस कल्याणरमन ने इस ओर कदम बढ़ाया.

सोने-चांदी के कारोबार ने बदली किस्मत

जिसका नतीजा यह निकला था कि टीएस कल्याणरमन की इस पहली शुरूआत से ही मिट्टी सोना उगलने लग गई थी. और आज इसी सोने-चांदी ने टीएस कल्याणरमन को अरबपति बना दिया.

वर्तमान में कल्याण ज्वैलर्स के कुल 105 से भी ज्यादा शोरूम बन चुके हैं. जिसे कि पूरे भारत और पश्चिम एशिया में खोल दिया जा चूका है. जो कि 12 शोरूम पश्चिम एशिया में खुले जा चुके हैं, बाकी देश के हर हिस्से में फैले हुए हैं.

बहुत से बड़े फिल्मी सितारों को बनाया ब्रांड एंबेसडर

कल्याण ज्वैलर्स ने बहुत से बड़े फिल्मी सितारों को मोटी रकम देकर अपना ब्रांड एंबेसडर बनाया हुआ है, चाहे वह अमिताभ बच्चन हो या फिर प्रभु गणेश. बल्कि इतना ही नहीं कल्याण ज्वैलर्स ने मशहूर अभिनेत्री ऐश्वर्या राय बच्चन को दो साल के लिए ब्रांड एंबेसडर बनाने के लिए 100 मिलियन प्रति वर्ष देने का भी वादा करा था. फिर इसके बाद साल 2016 में सोनम कपूर भी कल्याण ज्वैलर्स की ब्रांड एंबेसडर बनीं थी.

कल्याणरमन की सोच बहुत अलग है, तमाम सुविधाओं के बावजूद वह कभी बच्चों के साथ नहीं रहते. ये तीनों हमेशा अलग-अलग दिशाओं में काम कर रहे हैं. उन्होंने कहा कि 25,000 परिवारों की रोजी-रोटी को हमसे जोड़ा गया है, अगर कोई दुर्घटना होती है, तो यह किसी के साथ भी होगी. तो बाकी लोग इस कंपनी को बचा कर आगे बढ़ेंगे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here